Search This Blog

Tuesday, February 9, 2016

जीवनसाथी हैं आप -----

जाड़े के मौसम में
सूरज की गर्मी हैं आप
गर्मी में शीतल चाँद की
रौशनी हैं आप
बारिश के बरसने पे
घने दरख्तों की छाया हैं आप
पतझड़ में भी
रंगीं बहारों का मौसम हैं आप
साथी मेरे हर ग़म-हर खु़शी
के साथी हैं आप
क्योंकि जीवनसाथी हैं आप
मेरे जीवनसाथी !!