Search This Blog

Friday, February 5, 2016

मर जाते यूहीं ------

उनकी मोहब्बत में हम
मर जाते यूहीं
फिर उन्हें खंजर की ज़रूरत
भला क्यों पड़ी !!